पूर्व सीएम रघुवर दास ने पूजा पंडाल का उद्घाटन किया

सरायकेला। जिला के आदित्यपुर स्थित कोल्हान के सुप्रसिद्ध दुर्गा पूजा कमिटी जयराम यूथ स्पोर्टिंग क्लब द्वारा एक भारत श्रेष्ठ भारत थीम पर पंडाल का निर्माण किया गया है. इस दुर्गा पूजा पंडाल का उद्घाटन नवरात्रि के पहले दिन सोमवार शाम राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास ने फीता काटकर किया. इस मौके पर पूर्व मुख्यमंत्री ने आजादी के अमृत महोत्सव को दर्शाने वाले पूजा पंडाल की खूब तारीफ की.

आजादी के अमृत महोत्सव को ध्यान में रखते हुए पूजा पंडाल के आसपास की सजावट की गई है, जो देखते ही बन रही है. नृत्य, गीत-संगीत, भक्तिमय और देश भक्ति का माहौल पूजा पंडाल में देखने को मिला. इसका उद्घाटन करने के बाद पूर्व सीएम रघुवर दास ने कहा कि पूजा पंडाल में भगवान बुद्ध को स्थापित किया गया है, जिससे शांति का संदेश भी बखूबी मिल रहा है. आज जहां विश्व के कुछ देश आपस में युद्ध कर रहे हैं, ऐसे में सभी को शांति के प्रतीक भगवान बुद्ध के संदेशों को आत्मसात करने की जरूरत है. इस मौके पर महिला समूह द्वारा ढाक बजाकर मां दुर्गा का आह्वान किया गया, जो कार्यक्रम का आकर्षण बना रहा. वहीं महिला समूह द्वारा नृत्य संगीत के माध्यम से आरती की प्रस्तुति की गई जिसे देख लोग मंत्रमुग्ध हो उठे.

पूर्व मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि झारखंड राज्य खनिज संपदा से भरा है, ऐसे में मां दुर्गा की कृपा राज्य से गरीबी का नामोनिशान तक मिट जाए. अहिंसा, शांति, आपसी भाई-चारा समेत कई बेहतरीन संदेशों से समाहित पूजा पंडाल निर्माण की पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास ने जमकर तारीफ की. उन्होंने पूजा पंडाल के संरक्षक पूर्व विधायक अरविंद सिंह के पंडाल निर्माण के परिकल्पना को भी जमकर सराहा.

इस उद्घाटन समारोह की अध्यक्षता करते हुए पूजा कमिटी के संरक्षक और पूर्व विधायक अरविंद सिंह ने पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास का अभिनंदन किया. उन्होंने कहा कि रघुवर दास के नेतृत्व वाली सरकार में झारखंड ने खूब तरक्की किया. कार्यक्रम में उपस्थित खरसावां विधायक दशरथ गागराई ने भी पंडाल निर्माण के परिकल्पना को अद्भुत और अद्वितीय बताया, इस मौके पर पूर्व विधायक की पत्नी बसंती गगराई, पूजा कमिटी के संरक्षक एके श्रीवास्तव समेत अन्य गणमान्य लोग भी शामिल रहे.

Share this...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *