डॉ एस राधाकृष्णन शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालय में धूम धाम से मनाया गया गुरु पूर्णिमा

रामगढ़। चितरपुर प्रखंड स्थित लारी सुकरीगढ़ा में डॉ एस राधाकृष्णन शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालय में बड़े धूम धाम से गुरु पूर्णिमा मनाया गया। कार्यक्रम का संचालन बबलू दास एवं प्रियंका सिंह ने किया। सर्व प्रथम बी एड द्वितीय सेमेस्टर के प्रशिशुओ ने सभी सम्मानित अतिथियों को चंदन तिलक लगाकर कर सभागार में स्वागत किया। कार्यक्रम को आगे बढ़ाते हुए महाविद्यालय प्राचार्य डॉ सुनीता गुप्ता एवं सहायक शिक्षकों द्वारा सयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर एवं डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन के प्रतिमा में पुष्प अर्पित कर प्रारंभ किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए महाविद्यालय की प्राचार्या डॉ सुनीता गुप्ता ने कहा कि गुरु पूर्णिमा गुरुओं को समर्पित है।आज के दिन महर्षि वेदव्यास का जन्म हुआ था। आज के ही दिन परमेश्वर शिव ने ऋषि मुनि को शिव ज्ञान की शिक्षा दिए थे। इसी दिन से भारतीय संस्कृति के अनुसार गुरु पूर्णिमा मानते आ रहे है। गुरु और शिक्षकों का सम्मान करना हमारा कर्तव्य है। एक विद्यार्थी के जीवन में गुरु अपनी महत्वपूर्ण भूमिका अदा करता है। गुरु के ज्ञान और संस्कार के आधार पर ही उसका शिष्य ज्ञानी बनता है। गुरु की महत्ता को महत्व देते हुए प्राचीन धर्मग्रन्थों में भी गुरु को ब्रह्मा, विष्णु और महेश के समान बताया है। एक व्यक्ति गुरु का ऋण सभी नहीं चूका पाता है। गुरु मंदबुद्धि शिष्य को भी एक योग्य व्यक्ति बना देते हैं। संस्कार और शिक्षा जीवन का मूल स्वभाव होता है। गुरु के ज्ञान का कोई तोल नहीं होता है। हमारा जीवन गुरु के अभाव में शून्य होता है। गुरु अपने शिष्यों से कोई स्वार्थ नहीं रखते हैं, उनका उद्देश्य सभी का कल्याण ही होता है। गुरु को उस दिन अपने कार्यो पर गर्व होता है, जिस दिन उसका शिष्य एक बड़े ओदे पर पहुंच जाता है। वही इस महाविद्यालय के शिक्षको ने गुरु पूर्णिमा के महत्व को बहुत कम समय में गागर में सागर भरने का काम किए।कार्यक्रम में मुख्य रूप से सम्मानित अतिथि महाविद्यालय के प्रबंधन समिति के अध्यक्ष रितेश कुमार,सचिव संजय कुमार प्रभाकर, रंजू वंदना होरो संजू वंदना होरो, राजेश महतो, राजेंद्र प्रसाद यादव, मो परवेज अख्तर, अशोक राम, सीमा कुमारी, सुप्रिया बर्मन, बाबू चंद्र प्रसाद, नयन कुमार मिश्रा, मुरारी कुमार दुबे शामिल हुए। महाविद्यालय से प्रशिक्षण ले रहे बी एड द्वितीय सेमेस्टर के प्रशिक्षु टेकलाल महतो ने गुरु वंदना कर सभी शिक्षको को नमन किया। उसके बाद अपने अभिभाषण में गुरु की महिमा को अभिव्यक्त किया। कार्यक्रम में भाग लिए मनीष कुमार तिर्की, रोशनी कुमारी, सिद्धि कुमारी, रामलाल महतो, पूनम कुमारी, खुशबू कुमारी, जयंती कुमारी, मंजू कुमारी, विनीता, कुमारी, गीता कुमारी, सुनीता कुमारी, रोशनी कुमारी, नीतू, नीतू,लक्ष्मी कुमारी, डिंपल कुमारी, सरस्वती कुमारी, सुषमा कुमारी ने भाग लिया वही कार्यक्रम का धन्यवाद ज्ञापन करते हुए नयन कुमार मिश्रा ने कहा कि आज गुरु पूर्णिमा के शुभ अवसर पर महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ सुनीता गुप्ता प्रबंध समिति के अध्यक्ष रितेश कुमार सचिव संजय प्रभाकर को बहुत-बहुत धन्यवाद एवं जितने भी इस कार्यक्रम में भाग लिए उन सभी प्रशिक्षु को बहुत-बहुत धन्यवाद। जो भाग नहीं लिए उनको भी बहुत-बहुत धन्यवाद देता हूं और आगे आशा करता हूं कि जो भाग नहीं लिए अगले कार्यक्रम में भाग लेंगे और अपना छिपी हुई प्रतिभा को निखारने का काम करेंगे कार्यक्रम में भाग लेने से अपने अंदर छिपी प्रतिभा बाहर निकलता है। और हिचकिचाहट दूर होता है। क्योंकि आप सभी जितने भी प्रशिक्षु हैं। वह आने वाले दिन का भावी शिक्षक हैं। इसलिए आप लोग कार्यक्रम में भाग ले और अच्छे से अच्छे प्रशिक्षण प्राप्त कर आने वाले दिनों में देश के बच्चों का भविष्य संवारने का काम करेंगे। फिर आप सभी को बहुत-बहुत धन्यवाद।

Share this...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *