लोहरदगा मे भ्रष्टाचार चरम पर चुनाव लड़ने के लिए भी अभ्यर्थियों को पैसे देने पड़ रहे है

लोहरदगा जिला के किसको प्रखंड अंतर्गत पाखर पंचायत से मुखिया पद की उम्मीदवार आदिवासी महिला मनीता नगेसिया जो निवर्तमान मुखिया भी हैं इस महिला के साथ बड़ी साजिश करते हुए जेएमएम के नेता के साथ मिलीभगत कर किसको अंचलाधिकारी सह निर्वाची पदाधिकारी ने मनीता नगेसिया का नामांकन प्रपत्र 6 का ना होना कहकर रद्द करने की साजिश कि है जबकि नामांकन के समय अगर किसी अभ्यर्थी द्वारा भरे गए नामांकन प्रपत्र में कोई भी त्रुटि हो तो निर्वाची पदाधिकारी द्वारा उन्हें स्कूटनी से पूर्व सभी दस्तावेज जमा करने का समय दिया जाता है माना जाए कि मनीता नगेसिया द्वारा प्रपत्र 6 जमा नहीं किया गया था तो उन्हें क्यों नहीं बताया गया और जमा करने का समय क्यों नहीं दिया गया अंचलाधिकारी अपने कार्यालय में कई दलाल नियुक्त कर रखा है जो चुनाव लड़ने वाले अशिक्षित आदिवासी अभ्यर्थियों को नामांकन रद्द कराने का डर पैदा कर पैसा वसूली कर रहे हैं जबकि नामांकन करने वाले अभ्यर्थियों को निर्वाची पदाधिकारी द्वारा चेक लिस्ट निर्गत किया जाता है जिसमें निर्वाची पदाधिकारी द्वारा सभी कागजात जमा एवं सही बताते हुए मनीता नगेसिया को चेक लिस्ट निर्गत किया है उसके बावजूद नामांकन रद्द करना कहीं ना कहीं संदेह के घेरे में है यह एक गंभीर विषय है आजसू पार्टी इस मुद्दे को लेकर माननीय न्यायालय की शरण में जाएगी साथ ही निर्वाचन आयोग का दरवाजा खटखटाते हुए दोषी पदाधिकारियों के ऊपर कानूनी कार्रवाई करते हुए उन्हें बर्खास्तगी की मांग करेगी,

Share this...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter

Leave a Comment

Your email address will not be published.