कांग्रेस ने हमेशा किसानों को धोखा दिया, अबोहर में बोले पीएम मोदी, अब NDA की सरकार चाहता है पंजाब

पंजाब (Punjab Election 2022) के अबोहर में पीएम मोदी ने एक जनसभा को संबोधित किया. पंजाब के लोगों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि, प्रदेश में अगर डबल इंजन की सरकार आई तो माफियाओं की विदाई तय. पीएम मोदी ने कहा कि, अब NDA की सरकार चाहता है पंजाब.

पंजाब | पंजाब के अबोहर में पीएम मोदी ने एक जनसभा को संबोधित किया. पंजाब के लोगों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि, प्रदेश में अगर डबल इंजन की सरकार (Punjab Election 2022) आई तो माफियाओं की विदाई तय. पीएम मोदी ने कहा डबल इंजन की सरकार में नशा और रेत के माफियाओं की खैर नहीं होगी. उन्होंने कहा कि कांग्रेस की नीतियों के कारण किसानों का बहुत नुक्सान हुआ है.

पीएम मोदी ने कहा कि, इतिहास गवाह है कांग्रेस ने किसानों को हमेशा से धोखा दिया है. स्वामीनाथन कमीशन की सिफारिशों को लागू करने की मांग सालों से हो रही थी. ये फाइल पर कुंडली जमाकर बैठ गए थे. कांग्रेस सरकारें झूठ पर झूठ बोलती रहीं. केंद्र में हमारी सरकार बनी तो हमने उन सिफारिशों को लागू करने का काम किया. पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस हमेशा एक क्षेत्र के लोगों को दूसरों के खिलाफ खड़ा करती है. उन्होंने कहा कि, कांग्रेस के सीएम ने एक बयान दिया जिसे दिल्ली में परिवार के एक सदस्य से ताली मिली.

पीएम मोदी ने कहा कि क्या संत रविदास का जन्म पंजाब में हुआ था. उनका जन्म वाराणसी, उत्तर प्रदेश में हुआ था. ऐसे में सीएम चन्नी कहते हैं कि उत्तर प्रदेश के के लोगों को पंजाब में प्रवेश नहीं करने देंगे।. पीएम मोदी ने कह कि तो क्या आप संत रविदास को भी ठुकरा देंगे? क्या आप उसका नाम मिटा देंगे?

वहीं, पीएम मोदी ने कहा कि, पंजाब के किसानों को नई सोच और नई विजन वाली सरकार चाहिए. किसान को बेहतर फसल, कम लागत और बेहतर कीमत की जरूरत है. इसके लिए हमारी सरकार बीज से बाजार तक नई व्यवस्था बना रही है. उन्होंने कहा कि कोरोना काल में सरकार ने देश को लोगों को मुफ्त राशन दिया. पीएम मोदी ने कहा कि सरकार पूरे देश के नागरिकों को मुफ्त में कोरोना वैक्सीन दे रही है.

वहीं पीएम किसान सम्मान निधि के तहत केंद्र सरकार ने पंजाब के किसानों के बैंक खाते में 3,700 करोड़ रुपये सीधे-सीधे किसान के बैंक के खातों में जमा हुआ है. पीएम किसान सम्मान निधि का लाभ पंजाब के करीब 23 लाख किसानों को मिला है.

Share this...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter

Leave a Comment

Your email address will not be published.