पर्यटन स्थल लावापानी में घुमने आये पर्यटकों से लूटपाट मामले में महिनों से फरार चल रहे तीसरे आरोपी को दबोचने में पुलिस कामयाब

लोहरदगा। पेशरार थाना अर्न्तगत पर्यटन स्थल लावापानी में घुमने आये पर्यटकों से लूटपाट मामले में महिनों से फरार चल रहे तीसरे आरोपी को दबोचने में पुलिस कामयाब हुई है। गिरफ्तार आरोपी की पहचान इकबाल अंसारी, उम्र करीब 30 वर्ष, पिता नेजाम अंसारी, साकिन अम्बाटोली, थाना किस्को, जिला लोहरदगा, वर्तमान में जेलखाना कुटमू थाना व जिला लोहरदगा के रूप में की गई है। एसडीपीओ बीएन सिंह ने शनिवार को गिरफ्तार आरोपी को प्रेस के समक्ष प्रस्तुत करते हुए बताया कि दिनांक 21/06/2021 एवं दिनंक 28/06/2021 को पेशरार थाना अर्न्तगत पर्यटक स्थल लावापानी में घुमने आये पर्यटकों से दो मोटर साईकिल पर सवार तीन अपराधकर्मियों द्वारा हथियार के भय से 09 (नौ) मोबाईल फोन एवं कुल 3500 नगद रूपये की लूट किया गया था। इस संदर्भ में पेशरार थाना काण्ड संक्या 04/2021 दिनांक 28/06/2021. धारा-394 भादवि एक 27 शस्त्र अधिनियम एवं पेशरार थाना काण्ड संक्या 05/2021, दिनांक 29/06/2021 धारा-392/411 भादवि के अन्तर्गत अज्ञात अभियुक्तों के विरुद्ध मामला दर्ज किया गया था। पेशरार थाना के पुलिस पदाधिकारियों के द्वारा काण्ड का उद्भेदन करते हुए इस काण्ड में दो अपराधकर्मी जावेद अंसारी एवं इश्तेयाक अंसारी को गिरफ्तार कर पूर्व में ही जेल भेजा जा चुका है। एक अभियुक्त इकबाल अंसारी फरार चल रहा था। फरार चल रहे अभियुक्त के बारे में पुलिस कप्तान आर रामकुमार को गुप्त सूचना मिली। पुलिस कप्तान के द्वारा निर्देश के आधार पर लूटे गये मोबाईल फोन के साथ उक्त आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार आरोपी के पास से 1. रियल- मी कम्पनी का मोबाईल सेट, 2. पोको एम0-02 कम्पनी का मोबाईल सेट, 3. रेडमी नोट -08 प्रो कम्पनी का मोबाईल सेट, 4. सेमसंग ग्लैक्सी एफ0-41 कम्पनी का मोबाईल सेट बरामद किए गए हैं। एसडीपीओ श्री सिंह ने बताया कि गिरफ्तार अभियुक्त के विरुद्ध इससे पूर्व भी लोहरदगा थाना काण्ड संख्या-76/2019 धारा-414 / 34 भादवि दर्ज किया गया है। छापामारी टीम में पेशरार थाना प्रभारी पुअनि ऋषिकान्त, आइओ पुअनि विश्वजीत कुमार सिंह, पुलिस 89 बलभद्र कुमार और सशस्त्र बल के जवान शामिल थे।

Share this...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter

Leave a Comment

Your email address will not be published.