विद्यालय में स्वस्थ्य कर्मियों ने जानकारी देते हुए कहा मलेरिया जगरुक्ता से बीमारी हो सकता है नियंत्रण

सेन्हा/लोहरदगा। राजकीय उत्क्रमित बुनियादी विद्यालय सेन्हा प्रांगण में स्वस्थ्य कर्मियों द्वारा 154 बच्चों के बीच मलेरिया बीमारी एवं उपचार पर दी गई जानकारी कहा जगरुक्ता से मलेरिया बीमारी पर हो सकता है नियंत्रण इसके अलावे उगरा पंचायत क्षेत्र के कोराम्बे में भी मलेरिया जगरुक कार्यक्रम चलाया गया। सेन्हा प्रखंड मुख्यालय के समीप संचालित राजकीय उत्क्रमित उच्च बुनियादी विद्यालय में अध्यनरत वर्ग 8,9 एवं 10 के छात्र छात्राओं को मलेरिया संबंधित जानकारी स्वस्थ्यकर्मियो द्वारा 154 छात्र छात्राओं के बीच दिया गया। साथ ही कोराम्बे में भी मलेरिया जगरुक कार्यक्रम चलाया गया। मलेरिया जगरुक्ता कार्यक्रम के स्वस्थ्य विभाग के निर्देश पर स्कूली बच्चों के बीच एवं चोक चौराहे पर प्रचार के माध्यम से जानकारी दी जा रही है। इस संदर्भ में एमपीडब्ल्यू अनुज कुमार सिन्हा, देवेन्द्र गिरी मंसूर अंसारी गंदरु उराँव एवं बिराज तिर्की द्वारा मलेरिया से कैसे बचा जाए,उसके लक्षण, मलेरिया बीमारी का बढ़ावा कैसे मिलता है एवं उसका निदान कैसे किया जाएगा इन सभी बातों पर विस्तार पूर्वक जानकारी देते हुए बच्चों के बताया गया कि कंपकंपी जाड़े के साथ बुखार,सिरदर्द,बदन दर्द उल्टी होना बेचैनी कमजोरी लगना मलेरिया का लक्षण है। जिस किसी को इस प्रकार देखने या महशुस होता है तो उसे नजदीकी स्वस्थ्य केंद्र या स्थानीय सहिया से संपर्क कर जांच करवाते हुए नियमित रूप से दावा का सेवन करने की सलाह तथा जगरुक करने की बात कही गई। साथ ही घरों के आसपास साफ सफाई पर विशेष ध्यान देने का जानकारी दिया गया। और घरों के समीप गंदे पानी के जमाव को रोकने की जरूरत है। जिससे गंदे पानी में मच्छर उतपन न हो सके और सुरक्षित रह सके। इस अवसर पर विद्यालय के शिक्षक व छात्र छात्राएं मौजूद था।

Share this...
Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter

Leave a Comment

Your email address will not be published.